What is share in Hindi

What is Share Market in Hindi

आज मैं आपको बताने जा रहा हूँ की Share Market क्या होता हैं (what is share Market)और share market basics क्या होते हैं (Learn share market basics) तो share market  को जानने  से पहले आपको यह जानना ज़रूरी है की share  क्या होते है (What is share).

साधारण शब्दो मैं कहा जाये तो  शेयर एक कंपनी की  हिस्सेदारी (ownership) होती हैं जिसे कंपनी छोटे टुकड़ो मैं बाट कर  investors(निवेशको) को देती हैं

तो यह हिस्सेदारी कैसे मिलती हैं (How to become share owner)

मान लीजिये एक कंपनी है जिसका नाम हैं ABC Company और उसकी जो capital हैं वो हैं 100 Rs और वह अपना business expand करना चाहते हैं और वह अपनी company  की capital  जो हैं 100 Rs से बढाकर 200 Rs करना चाहते हैं और वह अब अपनी कंपनी को प्राइवेट से पब्लिक करना चाहते हैं तो वह एक IPO (Initial Public Offering) जारी करेंगे और उस IPO के जरिये वह investors को invite  करते है ताकि इन्वेस्टर्स IPO के लिए ज्यादा से ज्यादा Application दे और फिर उनको उनकी कंपनी के लिए पोटिनेशनल इन्वेस्टर मिल जय ताकि वह अपने business को grow (बढ़ा) कर पाए और यह ऑफर कुछ समय के लिए चलता हैं 

एवम application ली जाती हैं फिर उनको लॉटरी के जरिये अलॉट किया जाता हैं फिर जिन भी investors को शेयर्स अलॉट किये जाते हैं वह ABC Company की ओनर्स हो जायँगे यानि उन्हें उस कंपनी मैं हिस्सेदारी मिल जायगी अब आपके मन में question  आ रहा होगा की यह हिस्सेदारी कैसे दी जाती हैं तो मैं आपको बताना चाहुगा की जैसा की मैंने पहले जब ABC Company की IPO से पहले  उनकी capital जो थी  वह  100 RS बतायी थी और अब वह expand करना चाहते और उसको 200 करना एवं अपनी कंपनी को पब्लिक से प्राइवेट करना चाहते थे तो उन्होंने अपनी कंपनी की capital आधी अपने पास रखी और जिस capital की उनको जरुरत थी वह उन्होंने बाहर के इन्वेस्टर्स के जरिये लानी चाही तो 

अगर ABC Company 200 Rs Capital है तो वह कंपनी की 100 % हिस्सेदारी हुई तो कंपनी ने IPO जारी करने से पहले ही कंपनी की capital 100 Rs थी तो 50 % की हिस्सेदारी तोह उन्होंने अपने पास ही रख ली और बाकि की 50 % के लिए उन्होंने Application मार्किट से ली तो अगर आपने ABC कंपनी के IPO से 2 शेयर्स लिए है तो आप ABC Company के 1 % के हिस्सेदार बनेगे और आप यह जो शेयर्स है आप कभी भी किसी को भी sell कर सकते हैं इसमें आपको कंपनी के एंड से किसी भी तरह की रोक टोक नहीं रहेगी एवं आप जब भी चाहे ABC Company के शेयर्स को market में buy और sell कर सकते है क्यूंकि ABC  कंपनी जो अब पब्लिक कंपनी है यानि उनके जो शेयर्स है वह कोई भी buy and sell कर सकता है 

कंपनी को पब्लिक करने के बाद उनसे पहले जब वह प्राइवेट कंपनी थी जब उनका कोई भी शेयर को परचेस नहीं कर सकता था क्यूंकि जो कंपनी की  हिस्सेदारी थी वह पूरी कपनी के ओनर्स के पास ही थी क्यूंकि उन्होंने अपनी कंपनी पब्लिक कर  दी हैं तो उनके शेयर कोई भी Buy कर सकता हैं  एवम कंपनी को होने वाले फायदे एवम नुकसान में भी इन्वेस्टर्स के ऊपर प्रभाव पड़ेगा अगर फायदा होता हैं ABC Company को तो शेयर्स होल्डर्स (जिनके पास ABC कंपनी के शेयर्स हैं ) को डिविडेंड दिया जायगा एवं यदि कंपनी को किसी तरह का नुकसान होता है तो आपको भी नुकसान होगा उसमे आपको कंपनी को कुछ देने की जरुरत नहीं पड़ती हैं पर आपके जो ABC कंपनी के जो शेयर्स आपने ले रखे तो उनकी जो Value हैं वह Down हो जायगी और उससे आपको Loss होगा 

What is Share in Hindi

 

निष्कर्ष (Conclusion)

निष्कर्ष के तौर पर आप यह समझ सकते हैं की शेयर्स जो होते हैं वह एक कंपनी के ओनरशिप होती हैं जो पब्लिक्ली निवेशकों को आमंत्रित किया जाता हैं एवं उनको अपने कंपनी की जो हिस्सेदारी दी जाती है जिन हिस्सेदारों को कंपनी के शेयर्स दिए जाते हैं  उनका कंपनी के प्रॉफिट एंड लॉस में उनका हक़ होगा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *